विदेश जाने वाली मंडलियाँ

भारतीय सांस्कृतिक संबंध परिषद् की स्थापना के बाद से विदेशों में भारतीय सांस्कृतिक दलों को भेजने का कार्य इसके कार्य का मुख्य आधार रहा है। इन सांस्कृतिक दलों को विभिन्न देशों के साथ भारत के सांस्कृतिक आदान-प्रदान कार्यक्रम के दायरे के अंदर और बाहर दोनों भेजा जाता है। भारत के शास्त्रीय, लोक, ग्रामीण और आधुनिक नृत्य और संगीत दिखाने के लिए ---- भारत के प्रत्‍येक भाग से कलाकारों ने विदेश की यात्रा की है। युवा और होनहार कलाकार के रूप में महान उस्‍तादों ने यात्रा की। उन्‍होंने दुनिया को देखा और दुनिया को भारत दिखाया। 

भारत से सांस्कृतिक मंडलियाँ

परिषद् का प्राथमिक जनादेश संस्कृति के माध्यम से अंतरराष्ट्रीय समझ बनाना है। इस उद्देश्य की पूर्ति की दिशा में परिषद् भारतीय सांस्कृतिक मंडलियों द्वारा विश्‍वभर के देशों में उत्‍तम प्रस्‍तुतियां प्रदर्शित करती है ताकि लोगों को भारत की अभिनय कला की विविधता और ऊर्जा को देखने और समझने का अवसर मिले।

 

भारत के शास्त्रीय, लोक, ग्रामीण और आधुनिक नृत्य और संगीत दिखाने के लिए ---- भारत के प्रत्‍येक भाग से कलाकारों ने विदेश की यात्रा की है। युवा और होनहार कलाकार के रूप में महान उस्‍तादों ने यात्रा की। उन्‍होंने दुनिया को देखा और दुनिया को भारत दिखाया।

पिछले छह दशकों के दौरान भारतीय सांस्कृतिक संबंध परिषद् ने विशिष्ट देश या क्षेत्र के लिए समर्पित सांस्कृतिक सप्ताह और महोत्‍सव के आयोजन के अलावा विश्‍वभर में हजारों सांस्कृतिक मंडलियों को भेजा है।

भारत महोत्सव, भारतीय संस्कृति दिवस, इत्‍यादि सहित विभिन्‍न कार्यक्रमों के लिए विदेश भेजे गए सांस्कृतिक मंडलियों की सूची नीचे वर्ष पर क्लिक करके देखी जा सकती है
2009-2010
2011
2012
2012-2013
2013-2014