भारतीय सांस्कृतिक केंद्र, टोकियो

भारतीय सांस्कृतिक संबंध परिषद् के अध्यक्ष, डॉ कर्ण सिंह ने 25 सितंबर, 2009 को भारत की एक सितारों भरी शाम में सांस्कृतिक केन्द्र, टोकियो का उद्घाटन किया। केंद्र की शुभ शुरुआत करने के लिए इसका उद्घाटन एक युवा जापानी समूह द्वारा संस्कृत में श्लोकों के उच्चारण के साथ किया गया। यह नया सांस्कृतिक केंद्र टोकियो में भारतीय दूतावास के परिसर में चेरी के पुष्पित पेड़ों के जंगल के परिवेश में स्थित है और इम्पीरियल पैलेस से सटा हुआ है। वास्तुकला और कार्यक्षमता दोनों के संदर्भ में यह केंद्र सांस्कृतिक पहुँच को जापान में भारत की आधिकारिक मौजूदगी का अभिन्न अंग बनाने के द्वारा एक "मुक्त दूतावास" की अवधारणा को विकसित करना चाहता है।

यह केंद्र भारत की भारी 'सॉफ्ट पावर' को जापानी जनता के बीच बड़े पैमाने पर प्रक्षेपित करने के लिए पूरी तरह सुसज्जित है। यह केंद्र भारतीय संगीत, नृत्य और योग में पाठ्यक्रमों के लिए और कला प्रदर्शनियों, फिल्म शो, सेमिनारों और कार्यशालाओं के आयोजन के लिए अति आधुनिक सुविधाएं प्रदान करता है। आईसीसी में दूतावास का पुस्तकालय भी पुस्तकों के अपने 1950 तक के संग्रह के साथ स्थित है। परिषद् ने एक भारतीय योग शिक्षक और शास्त्रीय स्वर संगीत के लिए एक शिक्षक जो तबला भी सिखा सकते हैं, को प्रतिनियुक्त किया है। इसके अलावा, केंद्र की ओर से ओडिसी और भरतनाट्यम नृत्य के रूपों को सिखाने के लिए दो अन्य स्थानीय शिक्षकों को नियुक्त की गई है।

सुश्री मुअोंपुई सािावी 

काउंसलर / कार्यवाहक निदेशक

भारतीय सांस्कृतिक केंद्र, टोकियो

भारतीय दूतावास

2-2-11 कुदन मिनामी

चियोडा कू,

टोक्यो 1020074, जापान

टेलीफोन: 813-3262-8520

008180-32144737 (एम)

ईमेल: fspic@indembassy-tokyo.gov.in